Planetary

शुक्र का स्वराशि तुला राशि में गोचर, 17 नवंबर 2020

Venus transits in Libra

ज्योतिष शास्त्र में शुक्र ग्रह का विशेष महत्व है। यह एक लाभदाता ग्रह माना गया है। जिसे कला, प्रेम, सौंदर्य और सांसारिक सुखों का कारक माना जाता है। शुक्र भौतिक सुखों का प्रदाता ग्रह है। यही शुक्र दांपत्य जीवन में ख़ुशियाँ भर देता है और यही आपके जीवन में सभी प्रकार के सुख साधनों की वृद्धि भी करता है। 

शुक्र को स्त्री तत्व प्रधान ग्रह कहा जाता है और यही वजह है कि शुक्र से प्रभावित जातक देखने में आकर्षक होते हैं और लोग उनकी तरफ खिंचे चले आते हैं। शुक्र ग्रह जीवन में सभी प्रकार के सुखों का द्योतक है और यही वजह है कि, शुक्र का गोचर व्यक्ति के जीवन में अनेक शुभ घटनाओं की दस्तक लाता है। 

वास्तव में शुक्र एक ऐसा ग्रह है जो नैसर्गिक रूप से शुभ माना जाता है और आमतौर पर शुभ प्रभाव ही देता है जब तक की कुंडली में इसकी स्थिति अत्यधिक प्रतिकूल न हो।

ज्योतिष ग्रंथों में शुक्र ग्रह को काफी अधिक मान्यता दी गई है। यदि आपको जीवन में सुख चाहिए तो आपको शुक्र की कृपा अवश्य ही प्राप्त करनी होगी अन्यथा आप परेशान रह सकते हैं। शुक्र का ये गोचर बेहद महत्वपूर्ण रहने वाला है, क्योंकि इस गोचर के दौरान शुक्र देव अपनी ही राशि यानी तुला में विराजमान होंगे। 

शुक्र ग्रह 17 नवम्बर 2020, मंगलवार को दोपहर 12 बजकर 50 मिनट पर, कन्या से तुला राशि में गोचर करेगा और 11 दिसंबर 2020, शुक्रवार सुबह 05 बजकर 04 मिनट तक इसी राशि में स्थित रहेगा। इस दौरान शुक्र के संचरण से सभी राशियाँ विशेष प्रभावित होंगी। आईये जानते हैं आपकी राशि पर शुक्र के इस गोचर का क्या प्रभाव होगा?

मेष राशि (Aries)

शुक्र का परिवर्तन आपकी राशि से सातवें भाव में होने जा रहा है। सप्तम भाव से दीर्घकालीन साझेदारी के बारे में पता लगता है और यह आपके व्यवहार और जीवनसाथी का भाव भी माना जाता है। शुक्र के इस गोचर के प्रभाव से आपके दांपत्य जीवन में प्रेम की बरसात होगी और आप अपने दांपत्य जीवन के सुखों का आनंद उठाएंगे इस दौरान आप अपने निजी प्रयासों से अपने व्यापार को भी लाभ पहुंचाएंगे और कार्यक्षेत्र में आप को प्रगति मिलेगी। यदि आप कोई नया व्यवसाय या अपना कोई पुराना अधूरा पड़ा कार्य, पुनः शुरू करना चाहते हैं तो, उसके लिए भी शुक्र देवा का ये गोचर, आपको अच्छे फल देगा। प्रगति पथ पर आप आगे बढ़ेंगे और आपकी पदोन्नति होने की भी संभावना रहेगी, हालांकि इस दौरान आपको अत्यधिक धन के पीछे भागने से बचना होगा नहीं तो उसका प्रभाव आपके स्वास्थ्य पर पड़ सकता है।

वृषभ राशि (Taurus)

इस गोचर के दौरान शुक्र ग्रह आपकी राशि से छठे भाव में संचरण करेंगे। जो जातक नौकरी बदलना चाहते हैं या रोजगार पाने के अभिलाषी हैं उनके लिये नई नौकरी पाने के अवसर मिल सकते हैं। ननिहाल से कोई शुभ समाचार मिल सकता है। इस समय आपको प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता मिल सकती है शुक्र के इस गोचर के फलस्वरूप आपको अपने वैवाहिक जीवन में विशेष रूप से कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। बाहरी व्यक्तियों का संपर्क लाभदायक रहेगा, गोचर काल की यह अवधि स्वास्थ्य के लिहाज से आपके लिए अधिक नुकसानदायक साबित हो सकता है| इस दौरान अचानक किसी यात्रा पर जानें का प्रोग्राम बनने से आपके ख़र्चों में वृद्धि हो सकती है।

मिथुन राशि (Gemini)

आपकी राशि से शुक्र का परिवर्तन पांचवें भाव में हो रहा है। शिक्षा के क्षेत्र में इस दौरान आप का प्रदर्शन काफी सराहनीय रहेगा और विषयों पर आप की पकड़ मजबूत होगी। एकाग्रता की बढ़ोतरी होगी, इस दौरान प्रेम संबंधो में वृद्धि होने के साथ साथ मिठास देखने को मिलेगी। विवाहित जातकों को जीवनसाथी की ओर से शुभ समाचार मिलेंगे। नव दम्पती को पुत्र संतान की प्राप्ति होने के योग बन रहे है। प्रेम पाने की चाह रखने वाले जातकों के लिये अपने प्यार को प्रभावित करने के अच्छे अवसर मिल सकते हैं। उनकी नज़रों में आने का आपका उद्देश्य भी पूर्ण हो सकता है। जिसे आप चाहते हैं उनसे अपने दिल की बात कहने के लिये यह समय सही साबित हो सकता है।

यह भी पढ़ें: जॉव में प्रमोशन प्राप्ति के अचूक उपाय

कर्क राशि (Cancer)

शुक्र आपकी राशि से चतुर्थ भाव में गोचर करने वाले हैं। इस समय कार्यक्षेत्र में आपको अपनी रचनात्मक क्षमता और किसी कला के बल पर तरक्की करने के अवसर प्राप्त होंगे। इस दौरान कार्यस्थल पर कोई महिला सहकर्मी भी आपकी सबसे बड़ी सहयोगी बनकर उभर सकती है। इस गोचर में पारिवारिक सुख अच्छा मिलने के आसार हैं। आपकी माँ का स्वास्थ्य उत्तम  रहेगा और आपकी कोई मनोकामना पूर्ण होंगी। धन-सम्पति मिलने के योग हैं। इस अवधि में आप नया घर या गाड़ी ले सकते हैं। यह गोचर आपके सुख में वृद्धि करने वाला है। कुल मिलाकर इस गोचर में आप भौतिक सुख-सुविधओं का भरपूर आनन्द लेंगे। शुक्र देव की कृपा से आप इस दौरान कोई नया वाहन खरीद सकते हैं जिससे परिवार में खुशियों की अधिकता रहेगी।

सिंह राशि (Leo) 

गोचर की इस अवधि में शुक्रदेव आपके तीसरे भाव में प्रवेश करेंगे। इस गोचर के दौरान आपके साहस में वृद्धि होगी। भाई-बहनों को किसी क्षेत्र में लाभ मिलने के योग बन रहे हैं। इस समय व्यवसाय में अच्छा धन लाभ होने के योग बन रहे है। कामकाज में बदलाव हो सकता है तथा आप अपनी वर्तमान जॉब को बदल सकते हैं। कार्यक्षेत्र में सहकर्मियों से आपको पूरी मदद मिलने की संभावना है। प्रतिस्पर्धात्मक अवसरों पर आपको सफलता प्राप्त हो सकती है। लेकिन अपनी सेहत को लेकर थोड़ा सचेत रहें। इस दौरान आपकी संवाद शैली से लोग अत्यधिक प्रभावित होंगे। मीडिया, कला, ग्लैमर, अभिनय से जुड़े लोगों को इस गोचर का अधिक लाभ मिल सकता है।

कन्या राशि (Virgo)

कन्या राशि के लोगों के लिए शुक्र आपकी राशि से दूसरे भाव में गोचर करेंगे। इस समय आर्थिक जीवन में आपको भरपूर सफलता प्राप्त होगी, जिससे आपको अच्छा धन लाभ होगा। क्रय-विक्रय यानि सौदेबाजी के लिये समय अच्छा कहा जा सकता है। संचार कौशल ही इस समय आपकी सफलता की कुंजी साबित हो सकता है। आपका रोमांटिक मूड आपके प्रेम जीवन में रोमांच पैदा कर सकता है। इस समय आप अपने साथी को खुश रख सकते हैं। पारिवारिक जीवन में आप अपने परिवार के प्रति जागरूक नजर आएँगे। इसके लिए आप घर के सदस्यों के साथ समय बिताते और उनका सहयोग करते भी दिखाई देंगे। इस दौरान पारिवारिक व्यवसाय से जुड़े लोगों को शुक्र ग्रह धन कमाने और व्यापार में मिलने वाले कई सुनहरे अवसरों से लाभ उठाने के लिए समय-समय पर प्रोत्साहित करते दिखाई देंगे।

तुला राशि (Libra)

तुला राशि वालों के लिए शुक्रदेव आपकी ही राशि में गोचर करेंगे। इस अवधि में आपके व्यक्तित्व का विकास होगा और किसी क्षेत्र में आपको अचानक लाभ के शुभ संकेत मिल सकते हैं। यह गोचर जीवन में सकारात्मक बदलाव लेकर आ रहा है। आप ऐशोआराम की वस्तुओं पर ज्यादा धन खर्च करेंगे। नया घर या वाहन का क्रय होने की सम्भावना है। शत्रु आपसे भयभीत रहेंगे। आर्थिक स्थिति अच्छी बनी रहेगी। संतान सुख की प्राप्ति होगी। कामकाज में नयापन देखने को मिलेगा।

यह भी पढ़ें: जानिए, ज्योतिष के अनुसार कब बनता है विवाह योग?

वृश्चिक राशि (Scorpio)

शुक्र ग्रह आपके द्वादश भाव में गोचर करेंगे। ज्योतिष में यह भाव व्यय भाव कहलाता है। इस भाव से ख़र्चे, हानि, मोक्ष, विदेश यात्रा आदि को देखा जाता है। यह गोचर आपके लिए अच्छा रहेगा। किसी विदेशी स्रोत से फायदा मिल सकता है। शुक्र के इस गोचर काल में जहाँ एक तरफ आपके ख़र्चों में वृद्धि होगी, वहीं दूसरी तरफ आप भौतिक सुखों का लाभ भी उठा पाएंगे, आप एक समृद्ध जीवन व्यतीत करेंगे। आपके धन में वृद्धि हो सकती है। विपरीत लिंगी से आपकी मित्रता बढ़ेगी। जीवन साथी की सेहत में गिरावट देखने को मिल सकती है।

धनु राशि (Sagittarius)

आपकी राशि से शुक्र का परिवर्तन ग्यारहवें भाव में हो रहा है। शुक्र देव के गोचर के प्रभाव से आपकी आमदनी में वृद्धि होगी और इस दौरान आप अपने बिज़नेस को विस्तार दे पाएंगे। कार्यक्षेत्र में आपको अपने वरिष्ठ अधिकारियों से सराहना मिलेगी, जिससे आपकी मेहनत रंग लाएगी और भविष्य में संभावना है कि, आपको पदोन्नति भी मिलगी। वहीं यदि आप बिज़नेस करते हैं तो शुक्रदेव आपको अच्छा मुनाफ़ा कमाने के अवसर प्रदान करेंगे। साथी का भरपूर सहयोग आपको मिलने की संभावना है। यात्रा के योग भी आपके लिये बन रहे हैं। प्रेम और रोमांस के लिए समय उत्तम है।

मकर राशि (Capricorn)

आपकी राशि से शुक्र का परिवर्तन दशवें भाव में हो रहा है। इस समय व्यवसाय में मनोनुकूल सफलता मिलने के योग हैं। यदि आप नौकरी में बदलाव के बारे में सोच रहे हैं, तो यह समय आपके लिए अनुकूल है। क्योंकि यहां शुक्र स्वराशि का है और आप अपने काम में बेहतरी के लिए खूब मन लगाकर मेहनत करोगे। व्यावसायिक रूप से यह समय आपके लिये शानदार कहा जा सकता है। इस गोचर के प्रभाव से आपके पारिवारिक जीवन में ख़ुशियों की बढ़ोतरी होगी। परिवार में कोई नया वाहन या प्रॉपर्टी खरीदने के योग बनेंगे। आपस में लोगों का सामंजस्य बढ़िया रहेगा और आपके काम में आपके भाई बहन भी हाथ बँटायेंगे।

कुंभ राशि (Aquarius)

आपकी राशि से शुक्र का परिवर्तन नवमें भाव में हो रहा है। शुक्र के गोचर की इस अवधि में आपको भाग्य का पूरा साथ मिलेगा और जो भी कार्य लंबे समय से अटके हुए थे वह पूरे होने लगेंगे, जिससे न केवल आपको आर्थिक तौर पर लाभ होगा बल्कि आपका व्यापार भी रफ्तार पकड़ेगा। इस दौरान आपकी रुचि धार्मिक कार्यों में ज्यादा होगी और आप किसी प्रसिद्ध मंदिर में दर्शन के लिए जा सकते हैं। धन की प्राप्ति होगी, भाग्य का सम्पूर्ण लाभ मिलेगा, कार्यक्षेत्र में आपकी मेहनत को पहचान मिलेगी लेकिन इसमें आपको किसी महिला सहकर्मी की मदद की जरुरत होगी। स्वास्थ्य के मामले में भी यह आपके लिये बेहतरीन समय रहने वाला है।

मीन राशि (Pisces)

आपकी राशि से शुक्र का परिवर्तन आठवें भाव में हो रहा है। इस दौरान कुछ बेवजह की यात्राएं भी होंगी जो आपका जिससे आपका धन खर्च होगा, इसलिए ऐसा करने से बचें। आमदनी में उतार और चढ़ाव दोनों प्रकार की स्थितियां बनेंगी माताजी से संबंधों पर असर पड़ सकता है इसलिए आपको इस ओर भी विशेष ध्यान देना चाहिए। संतान को लेकर भी चिंतित रह सकते हैं। धन के मामले में पैसा आपको मिलेगा लेकिन किसी भी तरह से बचत नहीं हो पायेगी, कार्यस्थल पर काम का दबाव रह सकता है। प्रतिस्पर्धात्मक अवसरों पर आपको सफलता प्राप्त हो सकती है।

किसी समस्या से हैं परेशान, समाधान पाने के लिए ज्योतिष से प्रश्न पूछें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *